Connect with us

इलाहाबाद

Prayagraj news: यूपी बोर्ड की किताबों से हटा कांग्रेस का इतिहास तो बिफरे कांग्रेसी, कहा छात्रों को कैसे मिलेगी भारत के इतिहास की जानकारी

Published

on

खबर शेयर करें

कोरोना काल में स्कूली शिक्षा के प्रभावित होने के बाद ऑनलाइन शिक्षा व्यवस्था पर जोर दिया जा रहा है।वहीं यूपी बोर्ड ने भी कोरोना संक्रमण का हवाला देते हुए यूपी बोर्ड के कक्षा 9वीं से 12वीं तक कि किताबों से 30 फीसदी पाठ्यक्रम में कटौतिन कर दी गयी है।

इस कटौती के साथ ही भारतीय स्वतंत्रता संग्राम में कांग्रेस की भूमिका, उसके सम्बंधित ज्यादातर इतिहास को खत्म कर दिया गया है। कांग्रेस कार्यकाओं ने बुधवार को ये आरोप लगाते हुए मण्डल शहर अध्यक्ष नफीस अनवर के नेतृत्व में सचिव माध्यमिक शिक्षा बोर्ड दिव्यकान्त शुक्ला को ज्ञापन सौंपा।

इस दौरान कांग्रेस कार्यकाओं ने पाठ्यक्रम से कांग्रेस का इतिहास खत्म किये जाने का पुरजोर विरोध किया। साथ ही इसे फिर से पाठ्यक्रम में जोड़ने की मांग की। कांग्रेसी नेता मुकुन्द तिवारी का कहना था कि योगी सरकार के इशारे पर इतिहास से छेड़छाड़ करते हुए आज़ादी के महानायकों का अपमान किया जा रहा है।

कांग्रेस शिक्षक प्रकोष्ठ के प्रदेश महासचिव अजय सिंह का कहना था कि यूपी बोर्ड के छात्रों के साथ एक तरह का छलावा है। इससे बच्चो में पुराने इतिहास जानने की जो ललक थी, उसे समाप्त करने का प्रयास किया गया है। जिसका पुरजोर विरोध लगातार जारी रहेगा।

कांग्रेस नेता हसीब अहमद ने कहा पाठ्यक्रम हटा कर छात्र छात्राओं को स्वर्णिम इतिहास पढ़ने से वंचित किया जा रहा है। इस अवसर पर अजय सिंह, प्रेमकांत त्रिपाठी, सिब्बतैन बब्लू, अजय भारती, जयप्रकाश तिवारी, रविन्द्र सिंह आदि लोग मौजूद रहे।

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Advertisement
Advertisement

Trending