Connect with us

इलाहाबाद

Prayagraj: एटीएम में चिमटा लगाकर करोड़ो उड़ाने वाले शातिर गिरफ्तार, ऐसे जीते थे लग्जरी लाइफ, दंग कर देगा पैसा निकालने का तरीका 

Published

on

खबर शेयर करें

ATM से छेड़छाड़ कर करोड़ो रुपये निकालने वाले गिरोह का पुलिस ने शुक्रवार को भंडाफोड किया है। ये शातिर लूटेरे एटीएम से पैसा निकालने के लिए चिमटे का भी उपयोग करते थे। ये लोग पिछले 5 सालों में अब तक करोड़ो रुपये एटीएम से निकाल कर लग्जरी लाइफ का आनंद उठा रहे थे।

पुलिस ने पकड़े गए शातिरों के पास से 23500 रुपये नकद, तीन मोबाइल और एक चिमटा बरामद किया है। गिरोह का एक सदस्य अब भी फरार है। तीनों ने देश के कई राज्यों में पैसे निकालने की वारदात कबूली है। एटीएम से पैसा निकालने वाले ये लोग ऐश की जिंदगी जी रहे थे।

पुलिस ने ऐसे किया गिरफ्तार
एटीएम से छेड़छाड़ कर पैसा लूटने वाले इन तीनों शातिरों को पकड़ने के लिए एसओजी गंगापार प्रभारी मनोज सिंह, सोरांव इंस्पेक्टर आशुतोष तिवारी को सूचना मिली की कुछ बदमाश फारर्चुनर कार से गद्दोपुर पहुंचने वाले हैं।

सूचना मिलते ही फाफामऊ चैकी के दारोगा सुरेंद्र सिंह, लोकेन्द्र सिंह, धर्मेंद्र कुमार ने गद्दोपुर मोड़ में घेराबंदी कर कार सवार तीनों लोगों को पकड़ लिया। पकड़े गए लोगों में बजरंग बहादुर सिंह उर्फ सावन निवासी करमचंद्र थाना जेठवारा, तौफीक खान उर्फ बबलू निवासी बाबूतारा थाना लालगंज व आदिल अहमद उर्फ अनस निवासी पूरे मुस्तफाखान थाना कोतवाली, जनपद प्रतापगढ़ थे। पकड़े गए लोगों के पास से फार्चूनर कार के साथ 13 एटीएम कार्ड, 23 हजार 500 रुपये, तीन मोबाइल और एक चिमटा बरामद हुआ है। 

चिमटे में फंसाकर हाथ से खींचते थे नोट

सोरांव थाने में जब पुलिस ने पकड़े गए तीनों शातिरों से पूछताछ शुरू की तो उन्होंने एटीएम से छेड़छाड़ कर पैसा निकालने की बात कबूली। उन्होंने पुलिस को बताया कि वो पुराने एटीएम से ही छेड़छाड़ करते थे।

पहले वह 500 रुपये निकालने के लिए इंट्री करते थे और जब नोट बाहर निकलने वाला होता था तभी ये रुपये निकलने वाली जगह जिसे डिसपेंसर शटर कहते हैं पर फंसा देते थे।

500 रुपये निकालने के बाद वे दोबारा और कार्ड लगाते थे और मनमाफिक की इंट्री करते थे। मशीन से जब रुपये गिनकर ऊपर आते थे वह चिमटे में फंसाकर हाथ से बाहर खिंच लेते थे।

इससे उन्हें रुपये भी मिल जाते थे और खाते में कोई कटौती भी नहीं होती थी। उन्होंने पुलिस को बताया कि एटीएम से छेड़छाड़ कर पैसा निकालने का सिलसिल पिछले 5 सालों से चल रहा था।

इस दौरान उन्होंने करीब 5 करोड़ रुपये तक निकाले हैं। गैंग का एक सदस्य अब भी पुलिस के हत्थे नहीं चढ़ा है। पुलिस उसकी तलाश में जुटी है। 

बीयर बार में उड़ाते थे पैसा
एटीएम के लूटेरों ने पुलिस को बताया कि एटीएम से छेड़छाड़ कर पैसे निकालने का सिलसिल उत्तर प्रदेश के अलावा मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में भी कर चुके हैं। वहां यह गैंग गिरफ्तार भी हो चुका है।

सभी जमानत पर बाहर आए हैं और फिर से पुराने धंधे में जुट गए। उन्होंने पुलिस को बताया कि पैसों की कमी नहीं होने के कारण वो मनमुताबित अपनी ऐश की जिंदगी जीते थे। घर से कुछ लेनादेना नहीं था। मुंबई में जब भी जाते थे, बीयर बार में तीन चार लाख रुपये उड़ा देते थे। 

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Advertisement
Advertisement

Trending