Connect with us

उत्तरप्रदेश

69000 शिक्षक भर्तीः साॅल्वर गैंग से बने शिक्षा माफिया, किसी ने खोला स्कूल तो किसी ने रेस्टोरेंट, नर्सिंग होम

Published

on

खबर शेयर करें

69 हजार शिक्षक भर्ती में अभ्यर्थी के तौर शामिल होने वाले साॅल्वर गैंग से नकल माफिया बन गए। प्रतियोगी परीक्षाओं को पास कराने के बाद मिली मोटी रकम से किसी ने स्कूल-काॅलेज खोला तो किसी ने नर्सिंग होम खोल कर अपना सिक्का जमाया।

अपने ही काॅलेज में परीक्षा का सेंटर करा कर अभ्यर्थियों से जमकर वसूली की गई। मामले का खुलासा होने के बाद अब एसटीएम साॅल्वर गैंग और शिक्षक माफियाओं के स्कूल-काॅलेज सहित अवैध सम्पत्ति की सूची तैयार करने में जुट गई है।

आपको बता दें कि शिक्षक भर्ती धांधली के मामले में अभ्यर्थी राहुल सिंह ने डाॅ कृष्ण लाल पटेल सहित अन्य के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था। मामले की जांच में जुटी एसटीएफ डाॅ केएल पटेल, स्कूल प्रबंधक चंद्रमा यादव सहित 20 के खिलाफ कर चुकी है।

इनमें से 12 आरोपियों के खिलाफ गैंगेस्टर का मुकदमा भी दर्ज हो चुका है। अब पुलिस इनकी अवैध कमाई को गैंगेस्टर एक्ट के तहत कुर्क करने की तैयारी में है।

5 अरोपियों के संस्थान जिनकी चल रही जांच
आरोपी नंबर एक-डाॅ कृष्ण लाल पटेल और ससुराल पक्ष में
1- राम निहोर स्मारक इंटर काॅलेज
2- आईटीआई काॅलेज
3- चंद्रकली महाविद्यालय
4- चंद्रकली प्राइवेट आईटीआई काॅलेज
5- नंदलाल काॅलेज आॅफ फाॅर्मेसी
6- केएल पटेल काॅलेज आॅफ प्रोफेसनल स्टडीज
7- बसहारी रेस्टोरेंट
8- ओमकार नर्सिंग होम
9- सर्व समाज जूनियर हाईस्कूल


आरोपी नंबर दो- शिवदीप का आदमपुर में इंटर काॅलेज
आरोपी नंबर तीन- चंद्रमा यादव का पंचम लाल आश्रम इंटर काॅलेज, धूमनगंज
आरोपी नंबर चार- ललित त्रिपाठी का आदर्श ज्योति इंटर काॅलेज
आरोपी नंबर पांच- मायापति और इंद्रपति का भदोही में भट्ठा व काॅलेज

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Advertisement
Advertisement

Trending