Connect with us

शिक्षा

NEET Exam 2020: परीक्षा केंद्रों की व्यवस्था जांचने को मॉक ड्रिल, छात्र इन बातों का रखें खास ध्यान

Published

on

खबर शेयर करें

देश में टच फ्री NEET 2020 की परीक्षा के लिए 3863 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं। देश के सभी मेडिकल कॉलेजों में एमबीबीएस (MBBS) और बीडीएस (BDS) में दाखिले की प्रवेश परीक्षा होनी है। इसके लिए दिल्ली में 111 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं।

उत्तर भारत में सर्वाधिक 320 परीक्षा केंद्र उत्तर प्रदेश में बनाया गया है। देश में सबसे अधिक 615 परीक्षा केंद्र महाराष्ट्र में बनाया गया है जबकि केरल में 322 परीक्षा केंद्र बनाया गया है। परीक्षा केंद्र कर मामले में तीसरे स्थान पर यूपी का है।

परीक्षा को लेकर नेशनल टेस्टिंग एजेंसी राज्य सरकारों के साथ तैयारियों की आखरी समीक्षा कर चुकी है। परीक्षा केंद्र को सैनिटाइज करवाने के साथ-साथ पेन और कागज आधारित नीट 2020 की तैयारियों का भी जायजा लिया गया।

परीक्षा कराने को लेकर के मॉक ड्रिल के माध्यम से ही तैयारियों को जांचा परखा जा रहा है। परीक्षा में शामिल होने वाले छात्रों को रजिस्ट्रेशन रूम में जाना होगा। यहां उनके शरीर का टेम्परेचर (99 पॉइंट 4 डिग्री होना चाहिए) जांचा जाएगा।

इसके अलावा उनके दस्तावेजों की भी जांच की जाएगी। जिसमें उनका एडमिट कार्ड सरकारी फोटो पहचान पत्र दिखाना होगा। इस दौरान किसी भी छात्र के दस्तावेज को छुआ नहीं जाएगा। आपको बता दें कि अभिभावकों को परीक्षा केंद्र के 300 मीटर दूर ही रोक दिया जाएगा।

परीक्षा केंद्र के बाहर सड़क पर 600 मीटर की दूरी पर गोल सर्कल बनाया गया है। उन्हीं गोल सर्कल में छात्रों को खड़े होना है। लड़के और लड़कियों के अलग-अलग रजिस्ट्रेशन काउंटर बनाये गए हैं।

छात्रों को इन बातों का रखना होगा ध्यान

– छात्रों को मुंह पर मास्क और हाथ में दस्ताने पहनना अनिवार्य है।

– छात्रों को अपने साथ 50ml का सैनिटाइजर लाने की अनुमति होगी। हालांकि बोतल केवल पारदर्शी ही मान्य होना चाहिए।

– नकल रोकने के लिए मेटल डिटेकटर से छात्रों की जांच होगी।

– पीने के पानी की बोतल पारदर्शी होनी चाहिए।

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Advertisement
Advertisement

Trending