Connect with us

देश

विधानसभा चुनाव से पहले किसानों को बड़ी सौगात, माफ होगा किसानों का 12 हजार करोड़ रुपये का कर्ज

Published

on

खबर शेयर करें

Tamilanadu Vidhansabha Election 2021: कृषि कानून के खिलाफ जारी जंग के बीच तमिलनाडु सरकान (Tamilanadu Government) ने किसानों को बड़ी सौगात का ऐलान किया है। केंद्र सरकार के खिलाफ मोर्चा खोलने वाले किसानों के लिए तमिलनाडु सरकार ने विधानसभा चुनाव (Vidhansabha chunav 2021) से पहले 12 हजार करोड़ रुपये कर्ज काफी की घोषणा की है।

तमिलनाडु के मुख्यमंत्री पलानीसामी ने कहा है कि इस निर्णय से प्रदेश के 16 लाख किसानों को फायदा होगा। हालांकि यह लाभ सहकारी बैंको से लोन लेने वाले किसानो को ही मिलेगा। आपको बता दें कि तमिलनाडु में इस साल विधानसभा चुनाव होने वाले हैं।

कृषि कानून को लेकर पूरे देश के किसानों में केंद्र सरकार के खिलाफ जबरदस्त आक्रोश है। ऐसे में सत्ता पर आसीन एआईडीएमके (AIDMK) का यह दांव किसानों को रिझाने वाला सियासी दांव माना जा रहा है। किसानों के कर्ज माफी का ऐलान मुख्यमंत्री ने शुक्रवार को राज्य विधानसभा में की।

अपने ऐलान के दौरान मुख्यमंत्री पलानीसामी ने विधानसभा में कहा कि राज्य के सभी कोआॅपरेटिव बैंको से किसानों द्वारा लिया गया करीब 12110 करोड़ रुपये का कर्ज माफ कर दिया जाएगा। उन्होंने कर्जमाफी के पीछे वजह बताते हुए कहा कि चक्रवाती तूफानों और खराब मौसम के कारण राज्य के किसानों की स्थिति काफी दयनीय है।

इसलिए ऐसा फैसला लिया गया है। उन्होंने सदन में यह भी साफ किया कि यह योजना तुरंत लागू की जाएगी। दिलचस्प बात ये है कि विधानसभा चुनाव को देखते हुए विपक्षी डीएमके ने पहले ही किसानों के कर्जमाफी का ऐलान किया था।

डीएमके के नेता स्टालिन ने राज्य में एक सभा को संबोधित करते हुए कहा था कि आगामी विधानसभा चुनाव में हमारी सरकार बनती है तो वो कृषि ऋण, स्वर्ण ऋण और शिक्षा ऋण को माफ कर देगी।

आपको बता दें कि डीएमके पहले कि केंद्र सरकार द्वारा पारित तीनों कृषि कानूनों के खिलाफ है। वहीं तमिलनाडु में वर्तमान सरकार भाजपा और सत्ताधारी पार्टी एआईडीएमके गठबंधन की है।

Advertisement
Advertisement

Trending