Connect with us

देश

Bird Flu Alert: बर्ड फ्लू का कई राज्यों में अटैक, यहां मुर्गी और अंडे की बिक्री पर लगी रोक

Published

on

खबर शेयर करें

कोरोना महामारी का कहर अभी कम तभी नहीं हुआ था कि देश के कई राज्यों में बर्ड फ्लू ने अपना कहर बरसाना शुरू कर दिया। बर्ड फ्लू के कारण कई राज्यों में अब तक सैकड़ों पक्षियों की अचानक मौत हो चुकी है। मध्य प्रदेश, राजस्थान, पंजाब और हरियाणा लगातार पक्षियों की मौत का सिलसिला जारी हो चुका है।

हिमांचल प्रदेश के कांगड़ा जिले के पौंग अभ्यारण में पिछले एक सप्ताह के अंदर करीब 1700 प्रवासी पक्षियों की मौत हो चुकी है। वहीं राजस्थान के अलग अलग राज्यों में अब करीब 500 पक्षियों की मौत हो चुकी है। बर्ड फ्लू के लगातार पड़ते कहर को देखते हुए बिहार, उत्तराखंड और झारखंड की सरकारों ने अलर्ट जारी कर दिया है।

ऐसा कहा जा रहा है कि एवियन एन्फ्लूएंजा वायरस की चपेट में ना केवल पक्षी बल्कि मनुष्य भी आ सकते है। हिमांचल प्रदेश में तो बर्ड फ्लू के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए मछली, मुर्गे और अंडे की बिक्री पर रोक लगा दी गयी है। पौंग झील में अब तक 15 प्रजातियों के 1700 प्रवासी पक्षियों की मौत के बाद प्रशासन ने वहां पर्यटन पर प्रतिबंध लगा दिया है।

कहीं मांगी रिपोर्ट तो कहीं कोरोना टेस्ट

पक्षियों के लगातार मौत के बाद अलग अलग राज अपने अनुसार मामले को रोकने के साथ समझने का प्रयास कर रहे हैं। हिमाचल प्रदेश में पक्षियों की मौत की वजह H5N1 फ्लू बतायी गयी है। वहीं मामले की जांच के लिए वाइल्ड लाइफ इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया देहरादून से 3 सदस्यी टीम पौंग डैम पहुंची है।

राजस्थान में बर्ड फ्लू के कारण कौवों की मौत का सिलसिला जारी है। प्रदेश में करीब 500 पक्षियों की मौत को लेकर चिंतित राज्यपाल ने सरकार के कृषि मंत्री कटारिया से बर्ड फ्लू पर नियंत्रण के प्रयासों की रिपोर्ट मांगी है। वहीं मध्य प्रदेश सरकार ने कौवों की बर्ड ब्लू वायरस से मौत के बाद प्रभावित क्षेत्र में लोगों का कोरोना टेस्ट शुरू कर दिया है।

इंसान को भी खतरा, जानिए लक्षण

इस बीमारी की चपेट में पक्षियों के साथ मनुष्य भी आ सकते हैं। संक्रमित पक्षियों के वायरस मनुष्य में आंख, नाक और मुंह से अंदर प्रवेश कर सकते हैं। H5N1 वायरस मनुष्य के फेफड़े पर सीधा हमला करता है। इससे मनुष्य को निमोनिया का खतरा होता है। इसके लक्षण सांस का उखड़ना, गले में खराश, तेज बुखार, मांशपेशियों और पेट मे दर्द होता है। इसके अलावा छाती में दर्द और दस्त की भी शिकायत रहती है।

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Advertisement
Advertisement

Trending