Connect with us

देश

मिलिए 26 जनवरी से, लाख कोशिश के बाद भी नहीं बदल सका नाम, समस्या सुन रह जाएंगे दंग

Published

on

खबर शेयर करें

आप कल्पना एक मुहल्ले में जाएं और कोई आपसे पूछे क्या आप 26 जनवरी को जानते हैं? ये सून कर आप थोड़े असहज जरूर महसूस करेंगे और कहेंगे ये कैसा सवाल है। 26 जनवरी को तो देश का बच्चा बच्चा जानता है।

वहीं 26 जनवरी जिस दिन गणतंत्र दिवस मनाया जाता है। सामने वाला जवाब देगा नहीं मैं26 जनवरी आदमी की बात कर रहा हूं। इसके बाद आप भी असमंजस में पड़ जाएंगे।

जी हां, यहां देश के राष्ट्रीय त्योहार की बात नहीं,  बल्कि एक व्यक्ति की बात हो रही है। जिसका नाम ही 26 जनवरी टेलर है। मध्य प्रदेश के मंदसौर जिले में जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान में काम करने वाले कर्मचारियों में एक 26 जनवरी टेलर नाम के एक कर्मचारी हैं।

दरअसल, इस अनोखे नाम वाले कर्मचारी का जन्म 26जनवरी 1966 को हुआ था। राष्ट्रीय पर्व के दिन बच्चे के जन्म से पिता बहुत खुश हुए। देशभक्त पिता ने बच्चे के जन्म होते ही उसका नाम 26 जनवरी रख दिया। तभी से उस कर्मचारी का नाम 26 जनवरी पड़ गया।

मजाक और परेशानी के बावजूद पिता के नाम का पूरा सम्मान

इस बाद गणतंत्र दिवस 26 जनवरी 55साल के हो जाएंगे। एक मीडिया रिपोर्ट के अनुसार 26 जनवरी नाम के कारण अक्सर उनका मजाक बनाया जाता। सरकारी दस्तावेजों में भी उनका नाम 26 जनवरी ही लिखा गया है।

इसके कारण उन्हें कई तरह की परेशानियों का सामना भी करना पड़ा। इस अनोखे नाम के कारण उन्हें बैंक में खाता खुलवाने में काफी परेशानी उठानी पड़ी। हालंाकि उन्होंने अपने पिता द्वारा दिए गए नाम का पूरा आदर और सम्मान किया। और 26जनवरी नाम के साथ अपना जीवन जारी रखा.

झंडा रोहण के बाद मनाते हैं जन्मदिन

26 जनवरी अपने कुशल व्यवहार के कारण आॅफिस में काफी सम्मानित व्यक्ति हैं। नाम के साथ उनका व्यक्तित्व ही है कि कई बार जिला कलेक्टर भी उनसे मिलने की इच्छा जता चुके हैं। आपको बता दें कि प्रत्येक गणतंत्र दिवस के दिन आॅफिस में पहले पूरा स्टाॅफ झंडा फहराता है फिर हर्षोल्लास के साथ उनका जन्मदिन बनाया जाता है।

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Advertisement
Advertisement

Trending