Connect with us

खेल

किसान आंदोलनः अभिनेत्री कंगना रनौत ने रोहित शर्मा को लिखी इतनी गंदी बात कि ट्विटर ने डिलीट किया पोस्ट

Published

on

खबर शेयर करें

किसानों का आंदोलन (Kisan Agitation) की आग सड़कों के रास्ते अब सोशल मीडिया तक फैल गई है। ट्विटर पर सचिन तेंदुलकर(Sachin Tendulkar), विराट कोहली (Virat Kohali), रोहित शर्मा (Rohit Sharma) और अनिल कुंबले (Anil Kumble) सहित कई क्रिकेटर्स ने विदेशी हस्तियों द्वारा किसान आंदोलन (kisan andolan) के मुद्दे पर ट्वीट (tweet) और हैशटैग (hastagat) की निंदा की है। सभी एक सुर में इसे देश का आंतरिक मामला बताते हुए उन्हें दखल नहीं देने की अपील करते नजर आ रहे हैं।

वहीं बालीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत (Bollywood Actor Kangana Ranaut) ने तो किसान के समर्थन में खड़े लोगों पर हमला बोलने के लिए तो सारी हदें ही पार कर दीं। कंगना ने विदेशी स्टार रिहाना के बयान का विरोध किया। साथ ही उन्होंने भारतीय रोहित शर्मा अन्य क्रिकेटर्स को लेकर इतना गंदा शब्द लिखा की ट्विटर को उनकी पोस्ट के खिलाफ सख्त होना पड़ा।

कंगना ने भारत के धुरंधर बल्लेबाज रोहित शर्मा के ट्वीट पर रिट्वीट करते हुए लिखा कि “ये सभी क्रिकेटर्स धोबी का #@#@#@ तरह क्यों लग रहे हैं? किसान ऐसे कानून के खिलाफ क्यों होंगे जो उनके लिए भले के लिए क्रांतिकारी कदम की तरह है। ये आतंकवादी हैं जो बवाल मचा रहे हैं। ऐसा कहो ना, इतना डर लगता है?”

कंगना के इस ट्वीट पर रोहित शर्मा या अन्य कोई क्रिकेटर्स का जवाब आता, उसके पहले ही ट्विटर ने अभिनेत्री कंगना के खिलाफ एक्शन कर दिया। ट्विटर ने कंगना के इस ट्वीट को डिलीट कर दिया। दरअसल ट्विटर के अनुसार कंगना का ये ट्वीट नियमों का उल्लंघन था। ट्विटर ने इस एक्शन के बाद बयान जारी किया।

ट्विटर ने लिखा हमने सिर्फ उन ट्विट्स पर एक्शन लिया है जो हमारे नियमों के उल्लंघन में थे। आपको बता दें कि रोहित शर्मा ने इसके पहले ट्वीट में लिखा था कि “जब भी हम सब साथ खडे़ रहे हैं भारत हमेशा ताकतवर रहा है और एक उपाय निकालना इस समय जरूरत बन गया है।

हमारे किसान हमारे देश की भलाई में अहम भूमिका निभाते रहे हैं। मुझे उम्मीद है कि हम साथ मिलकर जल्द ही उपाय निकालेंगे।” वहीं इस मामले में विदेश मंत्रालय की ओर से बयान जारी किया गया है कि “मशहूर हस्तियों और अन्य द्वारा सोशल मीडिया पर हैशटैग और टिप्पणियों को सनसनीखेज बनाने की ललक न तो सही है और न ही जिम्मेदाराना है।”

वहीं केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा “कोई भी दुष्प्रचार भारत की एकता को ना तो डिगा सकता है और ना ही नईं ऊंचाइयां छूने से रोक सकता है।” आपको बता दें कि केंद्र सरकार ट्विटर पर चल रहे किसान आंदोलन हैशटैग को लेकर पहले ही नोटिस जारी कर चुका है।

Advertisement
Advertisement

Trending