Connect with us

क्राइम

फिल्मी स्टाइल में पुलिस के तीन जवान पहुंचे थे काॅल सेंटर लूटने, फर्जी रेड में सिपाही की एक गलती पड़ी भारी और फिर…

Published

on

खबर शेयर करें

दिल्ली पुलिस के तीन जवान फिल्मी स्टाइल में वसंत कुंज के एक काॅल सेंटर को लूटने गए थे। काॅल सेंटर के अंदर उन तीन पुलिसवालों के साथ उनका एक अन्य साथी भी लूटपाट करने गया था।

इसके अलावा चार अन्य साथी काॅल सेंटर के बाहर पूरी घटना पर नजर रखे हुए थे। वहीं लूटपाट के लिए अंदर घूसते ही पुलिसवाले ने कर्मचारियों से कहा यहां रेड पड़ी है।

सभी अपने लैपटाॅप, मोबाइल, कैश एक जगह रख दो। इसे देख काॅल सेंटर मालिक ने उनसे आईकार्ड मांगा तो लूटपाट करने आए एक पुलिसकर्मी ने उसे और उसके कर्मचारी को थप्पड़ जड दिया।

उनकी ये गलती भारी पड़ गई। प्राप्त जानकारी के अनुसार जब मालिक को शक हुआ तो उन्होंने 100 नंबर पर फोन कर पुलिस को बुलाने की बात कही।

इस पर लूटपाट करने आए पुलिसवालों का मिजाज थोड़ा बदला। उन्होंने कहीं भी फोन करने से मना किया। इससे मालिक और कर्मचारियों को उन पर शक हो गया।

वहां मौजूद सभी कर्मचारियों ने उन्हें दबोच लिया और खुद ही काॅल सेंटर का मेन दरवाजा बंद कर दिया। घटना की स्थिति का अनुमान लगते ही बाहर खड़े उनके चार अन्य साथी भाग गए। पकड़े गए चारो आरोपियों को काॅल सेंटर मालिक ने पुलिस के हवाले कर दिया।

पुलिसवाले लुटेरे निकले तो कर्मचारियों के उड़े होश

कॉल सेंटर के कर्मचारी उस समय दंग रह गए। जब फर्जी रेड मारने वाले चार लोगों में तीन पुलिसवाले निकले। तीन पुलिसकर्मियों में संदीप स्पेशल सेल में है।

इसके अलावा मनु कुमार और अमित दिल्ली के मालवीय नगर थाने में तैनात हैं। इसमें आपको बता दें कि घटना 8 अगस्त है। पुलिस विभाग में घटना की जानकारी होते ही तीनों को सस्पेंड कर दिया गया है।

साथ ही तीनों के खिलाफ विभागीय जांच के आदेश भी जारी किए गए हैं। वहीं पुलिसवालों द्वारा फर्जी रेड की चर्चा चारो ओर हो रही है।

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Advertisement
Advertisement

Trending