Connect with us

Uncategorized

EPFO Alert: आपको भी पता होनी चाहिए PF खाते से जुड़े ये फायदे

Published

on

खबर शेयर करें

EPFO alert: अगर आप किसी कम्पनी में काम करते हैं तो आपको बता दें कि कंपनियां अपने कर्मचारियों के वेतन से हर महीने कर्मचारी भविष्य निधि (EPF) खाते के लिए राशि की कटौती करती है। दूसरा हिस्सा कंपनी का भी होता है। EPF को PF के रूप में भी जानते हैं।

सरकार की ओर से यह संगठित क्षेत्र के कर्मचारियों के लिए स्थापित एक बचत योजना है। आपको बता दे कि केवल ईपीएफ अधिनियम के तहत पंजीकृत कंपनियों के कर्मचारी ही ईपीएफ या पीएफ में निवेश कर सकते हैं। नियोक्ता और कर्मचारी दोनों को ईपीएफ खाते में हर महीने कर्मचारी के मूल वेतन और महंगाई भत्ते का 12 प्रतिशत योगदान करना आवश्यक है।

हर खाताधारक को पता होनी चाहिए ईपीएफओ से जुड़ी ये बात

EPF खातों में जमा राशि पर कर्मचारी को शानदार रिटर्न हासिल होता है। जिन कर्मचारियों का कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) में अकाउंट है, उन्हें EPFO अधिनियम 1956 के तहत यह सुविधा प्रदान की जाती है। ईपीएफ पर मिलने वाली ब्याज दर हर साल बदलती रहती है। अभी यह 8.5 प्रतिशत है।

यह बचत योजना आयकर अधिनियम की धारा 80 सी के तहत कर छूट के दायरे में आती है। सरकार की ओर से कोरोना महामारी के असर और इस दौरान बेरोजगार होने वालों की मदद के लिए आंशिक निकासी की सुविधा प्रदान की गई है। यह प्रक्रिया बहुत आसान है और ऑनलाइन की जा सकती है।

इसमें पेंशन योजना 1995 (ईपीएस) के तहत आजीवन पेंशन योजना प्रदान की जाती है। यदि ईपीएफओ का कोई सदस्य नियमित रूप से अंशदान जमा कर रहा है तो उसकी मृत्यु की स्थिति में उसके परिवार का सदस्य बीमा योजना 1976 (EDLI) का लाभ उठा सकता है।

इस योजना के तहत सदस्य को उसके अंतिम मासिक वेतन के 20 गुना राशि मिलती है। यह राशि अधिकतम 6 लाख रुपये तक हो सकती है।

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Advertisement
Advertisement

Trending