Connect with us

Uncategorized

Railway News: अब QR Code से होगी रेलवे टिकटों की जांच, एक क्लिक करते ही खुल जाएगी यात्री की पूरी डिटेल, रीयल टाइम मिलेगी सीटों की जानकारी

Published

on

खबर शेयर करें

अब देश के सभी रेलवे स्टेशनों पर यात्रियों के टिकटों की जांच क्यूआर कोड से की जाएगी। QR कोड प्रणाली में एक क्लिक करते हुए यात्री से संबंधित पूरी जानकारी खुल जाएगी। प्रयागराज जंक्शन पर सफल जांच प्रक्रिया को देखते हुए रेलवे बोर्ड ने इसे पूरे देश के रेलवे स्टेशनों पर लागू करने का निर्देश जारी किया है।


कोरोना महामारी को ध्यान में रखते हुए रेलवे की ओर से प्रयागराज जंक्शन पर पिछले महीने प्रयोग के तौर पर इसे शुरू किया था। प्रयागराज मंडल के इस सफल प्रयोग की सराहना करते हुए रेलवे बोर्ड ने इसे देश के सभी स्टेशन पर शुरू करने के लिए हरी झंडी दे दी है।सेंटर फॅार रेलवे इन्फॉर्मेशन सिस्टम्स (CRIS) ने सभी क्षेत्रीय रेलों पर एक साफ्टवेयर एप्लीकेशन लाॅच किया है।

इसके तहत कहीं से भी टिकट बुक कराने वाले यात्री के मोबाइल नंबर पर QR कोड के URL वाला एक एसएमएस आएगा। यात्री के स्टेशन में प्रवेश या टिकट जांच के दौरान यात्री अपने एसएमएस में मौजूद QR कोड URL पर क्लिक करेगा। उसके एक क्लिक करते ही आरक्षित टिकट का QR कोड यात्री के माबाइल ब्राउजर पर खुल कर दिखने लगेगा।

CRIS द्वारा विकसित एप्लिकेशन युक्त हैंड टर्मिनल का इस्तेमाल काॅन्टेक्टलेंस तरीके से QR कोड स्कैनिंग के लिए किया जा सकता है। QR कोड स्कैन होते ही यात्री संभी जानकारी एप्लिकेशन में अपडेट हो जाएगा। इससे ट्रेन में यात्रियों की संख्या, खाली बर्थों की स्थिति सहित अन्य जानकारी रीयल टाइम के आधार पर मौजूद होगी।

आपको बता दें कि इसे गूगल google play store या iOS App store में मौजूद कोई भी क्यूआर कोड स्कैनिंग एप्लीकेशन जैसे क्यूआर कोड रीडर, क्यूआर एंड बारकोड स्कैनर का उपयोग किया जा सकताा है। इसे हैंड हेल्ड टर्मिनल के अलावा मोबाइल के माध्यम से भी टिकट चेकिंग स्टाफ क्यूआर कोड को स्कैन कर सकेंगे।

एनसीआर के सीपीआरओ अजीत कुमार कुमार सिंह ने बताया कि QR कोड आधारित काॅन्टैक्टलेस टिकट स्कैनिंग प्रणाली उत्तर मध्य रेलवे के प्रयागराज जंक्शन पर एक जून 2020 में पाइलट प्रोजेक्ट के रूप में शुरू की गई थी। रेलवे बोर्ड ने अब इस टिकट चेकिंग की प्रणाली को सभी जोनल रेलवे को लागू करने का निर्देश जारी किया है।

टिकट चेकिंग की इस प्रणाली से यात्रियों के टिकट या मोबाइल को छूने की भी जरूरत नहीं होगी। ऐसे में कोरोना से रेलवे कर्मचारियों को भी संक्रमण का खतरा नहीं होगा।

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Advertisement
Advertisement

Trending