Connect with us

दुनिया

इस खूबसूरत गांव में बसने पर सरकार देगी 38.6 लाख रुपये, जानिए आवेदन की शर्तें

Published

on

खबर शेयर करें

खूबसूरत पहाड़ों की वादियां देखकर भला किसका मन नहीं करता कि काश यहां अपना भी आशियाना होता। अगर आपका वहां रहने का मन नहीं भी कर रहा है तो ये खबर पढ़ने के बाद आपका मन जरूर बदल सकता है। क्योंकि जिन पहाड़ों की वादियों में बसे हिल स्टेशन की बात की जा रही है, वहां रहने के लिए पैसे मिलेंगे। पैसे वो भी थोड़े-बहुत नहीं बल्कि 38.6 लाख रुपये। आपको बता दें कि यह गांव भारत में नहीं बल्कि इटली में है। यहां की सरकार उस गांव में रहने वालों को 38.6 लाख रुपये दगी।


इसलिए सरकार दे रही इतनी मोटी रकम
आपके मन में ये सवाल जरूर आया होगा कि इटली सरकार भला इस सैंटो स्टेफैनो डि सेसानियो गांव में रहने के लिए इतनी मोटी रकम भला क्यों दे रही है? तो हम आपको बता दें कि सरकार ने यह फैंसला गांव की आबादी के कारण लिया है।

आपको जानकर आश्चर्य होगा कि इस गांव की आबादी सिर्फ 115 है, जिसमें से 13 लोगों की आयु 20 साल से भी कम है और 41 लोगों की आयु 65 साल से भी ज्यादा है। प्रशासन इस गांव की अर्थव्यवस्था को संभालना चाहता है, जो कि बिना आबादी बढ़ाए संभव नहीं है।


गांव को जिंदा रखने के लिए डेवलपमेंट
प्रशासन की जिम्मेदारी गांव का स्थाई विकास करना है। सीएनएन ट्रेवल की रिपोर्ट के अनुसार यहां के मेयर का कहना है कि हम किसी को कुछ नहीं बेच रहे हैं। यह एक व्यावसायिक कदम नहीं है। हम बस गांव को जिंदा रखे रखना चाहते हैं।


गांव में रहने की शर्त
इस गांव में आपको कम से कम 5 साल तक रहना होगा। पहले 3 साल आपको हर महीने सरकार 6.94 लाख रुपये का भुगतान करेगी। इतना ही नहीं सरकार आपको व्यापार करने के लिए 17.41 लाख रुपये यानी 20 लाख यूरो भी देगी, वो भी बिना कुछ किए।

हालंाकि आपको जो यहां प्राॅपर्टी दी जाएगी किराये-मुक्त नहीं है। निवासियों को बहुत छोटी रकम किराये के तौर पर अदा करनी होगी। आवेदन करने वाले की उम्र 18-40 के बीच होनी चाहिए।


कौन कर सकता है आवेदन
आपको बता दें कि यहां रहने के लिए हर कोई आवेदन नही कर सकता। यह उन लोगों के लिए है जो इटली के निवासी हैं और उनकी आयु 40 से कम है।

इस योजना के तहत आने वाले कारोबारियों की एक लिस्ट भी जारी की गई है, जिनका आवेदन स्वीकार किया जाएगा। इनमें गाइड, इफाॅर्मेशन आॅफिस स्टाफ, मैंटेनेंस वर्कर्स, मैडिसिन स्टोस आॅनर्स और खाने से जुड़े कारोबार शामिल हैं।

1500 ने किया आवेदन

15 अक्टूबर को यह स्कीम प्रारंभ हुई थी। 1500 लोग आवेदन कर चुके हैं। वहीं नगर परिषद ने इसे 10 लोगों यानी पांच जोड़ों तक सीमित कर देगा। हालांकि यहां के मेयर ने आश्वस्त किया है कि धीरे-धीरे संख्या बढ़ाई जाएगी।

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Advertisement
Advertisement

Trending